Aaj Tak Live आजतक लाइव

pm narendra modi launches har ghar nal yojana know benefits and plan of this scheme – पीएम नरेंद्र मोदी ने लॉन्च ही ‘हर घर नल योजना’, यूपी के 3000 गांवों को मिलेगा फायदा, जानें- क्या है स्कीम


पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी में ‘हर घर नल योजना’ को रविवार को लॉन्च किया। इस स्कीम को उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र क्षेत्र के 3,000 गांवों के लिए लॉन्च किया गया है। इस मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सोनभद्र में थे, जबकि पीएम मोदी ने दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए योजना की लॉन्चिंग की। इस स्कीम के तहत 5,555.38 करोड़ रुपये खर्च होंगे और दो जिलों की 41 लाख आबादी को सीधे तौर पर फायदा मिलेगा। पीएम मोदी ने स्कीम की लॉन्चिंग करते हुए कहा, ‘यह क्षेत्र संसाधनों से भरपूर है, लेकिन आजादी के बाद से अब तक नजरअंदाज किया गया है। क्षेत्र में कई नदियां होने के बाद भी यहां सूखे की समस्या रही है। हालांकि इस सरकार ने पानी की किल्लत को दूर करने के लिए काम किया है और इसी तहत आज ‘हर घर नल योजना’ की शुरुआत की जा रही है।’

सरकार के मुताबिक इस स्कीम के तहत 2,995 गांवों को पाइपलाइन के जरिए पानी की सप्लाई की जाएगी। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के बाद से अब तक 398 गांवों को ही पाइप वाटर सप्लाई के तहत कवर किया गया था। अब जल जीवन मिशन के तहत हर घर जल योजना को लॉन्च किया गया है और इससे 2,995 गांवों के लोगों को पानी मिल सकेगा। इस स्कीम के तहत मिर्जापुर के 21,87,980 ग्रामीणों को जोड़ा जाएगा।

इसके अलावा सोनभद्र के 19,53,458 ग्रामीणों को इस स्कीम का लाभ मिलेगा। स्कीम के तहत झीलों और नदी के पानी का शुद्धिकरण किया जाएगा और फिर उसे सोनभद्र में रहने वाले परिवारों तक सप्लाई किया जाएगा। सोनभद्र में इस स्कीम पर 3212 करोड़ रुपये खर्च होने वाले हैं, जबकि मिर्जापुर जिले में इस स्कीम पर 2343 करोड़ रुपये की रकम खर्च की जाएगी। जल शक्ति मंत्रालय के इंजीनियरों के मुताबिक इस स्कीम से दोनों जिलों के 41 लाख से ज्यादा लोगों को फायदा मिलेगा। अगले दो सालों में इस पर काम पूरा हो जाएगा।

जानें, क्या है स्कीम का मकसद: इस योजना के तहत 2024 तक सरकार देश के ग्रामीण इलाकों में हर एक घर में पीने के पानी का कनेक्‍शन देगी। इसके तहत घरों तक पानी पहुंचाने के लिए इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर तैयार किया जाएगा। इससे लोगों को घर पर ही पीने का साफ पानी मिलेगा और उन्‍हें कहीं दूर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

कितना है योजना का बजट: सरकार कह चुकी है कि वह इसमें अपनी पूरी ताकत लगा देगी। इस स्कीम पर साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये खर्च करने की तैयारी है। मोदी सरकार ने बजट 2020-2021 में इस राशि के आवंटन का ऐलान किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो








Source link

Related posts