अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के वीवीआईपी होटल में हुए आतंकी हमले ने भारत में लोगों को 2008 के मुंबई अटैक की याद दिला दी

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के वीवीआईपी होटल में हुए आतंकी हमले ने भारत में लोगों को 2008 के मुंबई अटैक की याद दिला दी है. काबुल में हुए इस होटल के आस-पास वैसा ही मंजर है जैसा कि 2008 में ताज होटल पर हमले के बाद खौफनाक दृश्य था. 

kabul-hotel-attack-in-afghanistan-shahr-e-naw-firing-and-blast-inside-hotel-ntc

इस बहुमंजिला पांच सितारा होटल की इमारत की खिड़कियों से धुएं का गुबार और आग की लपटें निकल रही हैं. सोशल मीडिया पर आए वीडियो में होटल में लगातार गोलियां चलने की आवाजें आ रही हैं. लोग भाग रहे हैं और आस-पास अफरा-तफरी का माहौल है. लोग खिड़कियों से मदद की गुहार लगा रहे हैं. जान बचाने के लिए कुछ लोग खिड़कियों से लटक रहे हैं और कुछ लोगों को खिड़कियों से लटककर भागते हुए देखा गया है. 

Footage : A Chinese Hotel Under Attack 

अफगानिस्तान पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां घटनास्थल पर पहुंच गई हैं और होटल को चारों से घेर लिया है. यहां से रुक रुक कर फायरिंग की आवाज आ रही है. 

सम्बंधित ख़बरें

जानकारी के मुताबिक हमलावर होटल के अंदर गोलियां चलाते हुए घुसे थे. इसके बाद उन्होंने धमाका किया. समाचार एजेंसी एएफपी ने बताया कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के उस होटल में चीनी व्यापारी और अधिकारी अक्सर आते-जाते रहते हैं. अब तक मिली जानकारी के अनुसार हमलावर होटल में मौजूद लोगों को बंधक बनाना चाहते हैं. 

टोलो न्यूज के अनुसार एक चश्मदीद ने बताया कि पहले 2 धमाके सुने गए, इसके बाद कई छोटे छोटे धमाके सुने गए. 

काबुल सुरक्षा कमान के प्रवक्ता खालिद जादरान ने कहा कि “काबुल होटल” जहां ज्यादातर आम लोग अपना दिन बिताते हैं, वहां पर आज की बैठक के बाद हमला किया गया. उनके मुताबिक सुरक्षा बल मौके पर पहुंच गए हैं और हमलावरों को नेस्तनाबूद करने के लिए ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है. खालिद जादरान ने कहा कि स्थानीय समय के अनुसार 2.30 बजे हमलावर ने होटल पर हमला कर दिया. 

An explosion has taken place in Kabul where 

माना जा रहा है कि इस हमले के पीछे ISKP (इस्लामिक स्टेट खोरासन प्रॉविंस) का हाथ है, हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है. 

बता दें कि ये होटल काबुल के शहरएनवां इलाके में है. ये होटल चीन से अफगानिस्तान आने वाले लोगों का खास पसंद है. इसलिए यहां चीनी बड़ी संख्या में ठहरते हैं.  

गौरतलब है कि काबुल के इस होटल में ये विस्फोट अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता द्वारा ये कहे जाने के एक दिन बाद हुआ कि काबुल में चीनी राजदूत वांग यू ने तालिबान के उप विदेश मंत्री शेर मोहम्मद अब्बास स्टैंकजई से मुलाकात की है. 

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि, ‘आज, काबुल में चीनी राजदूत वांग यू ने आपसी हित के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए उप विदेश मंत्री शेर मोहम्मद अब्बास स्टैंकजई से मुलाकात की. चीनी राजदूत ने अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति और इंतजामों पर अपनी संतुष्टि व्यक्त की. 

Related posts

छत्तीसगढ़ विधानसभा में आया अविश्वास प्रस्ताव

Aajtak live

मुंबई से जहां वर्षा राउत संजय राउत की पत्नी ईडी की दफ्तर पहुंची

Aajtak live

CG Panchayat Vibhag : छत्तीसगढ़ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में की गई बड़ी घोषणा

Aajtak live

Leave a Comment